fbpx
Sunday, July 14, 2024
spot_img

Eid ul Fitr 2024: 10 या 11 अप्रैल भारत में कब मनाई जाएगी ईद, ऐसे दूर करें अपना कंफ्यूजन | Eid-ul-Fitr 2024 Right Date Eid Celebration in India


Eid-ul-Fitr 2024: 10 या 11 अप्रैल भारत में कब मनाई जाएगी ईद, ऐसे दूर करें अपना कंफ्यूजन

10 या 11 अप्रैल भारत में कब मनाई जाएगी ईद, यहां दूर करें अपना कंफ्यूजन

Eid-ul-Fitr 2024: इस्लाम धर्म का सबसे पाक महीने खत्म होने में बस कुछ ही दिन बाकी बचे हैं. क्योंकि कुछ ही दिनों में ईद-उल-फितर के त्योहार के साथ रमजान का महीना खत्म हो जाएगा. इस्लाम धर्म में रमजान और ईद-उल-फितर सबसे पाक त्योहार माना जाता है, इसे मीठी ईद भी कहा जाता है, जो अपने साथ कई मायनों पर रहमत ले आता है, इस्लाम धर्म मानने वालों के लिए ये महीना मुबारक और अव्वल होता है. वहीं, ईद-उल-फितर त्योहार के दौरान लोग एक-दूसरे को गले मिलते हैं. खुशियों का इजहार करते हैं और अल्लाह से रहमत और बरकत की कामना करते हैं.

अगर आपको ईद-उल-फितर का त्योहार की 10 या 11 तारीख को लेकर कोई कंफ्यूजन है तो यहां पर आपको सही तारीख के बारे में जानकारी दे रहे हैं कि ईद-उल-फितर का त्योहार किस तारीख को मनाया जाएगा. इस्लामिक कैलेंडर के मुताबिक एक महीने के रमजान के बाद ईद-उल-फितर का त्योहार आता है. ईद-उल-फितर और रमजान दोनों ही त्योहार की तारीख चांद देखकर ही तय की जाती है. इस साल के रमजान का चांद 11 मार्च को देखा गया था और इसी दिन से तरावीह की नमाज भी शुरू हो गई है, इसके बाद 12 मार्च 2024 से रोजा रखा गया था यानी रमजान का महीना शुरु हो गया था.

जानें क्या है मान्यता

ऐसी मान्यता है कि इस्लाम धर्म में चांद के दिखने के बाद ही ईद की तारीख तय की जाती है. ईद चांद को देखने के अलगे दिन मनाई जाती है, लेकिन सरहद पार कई देशों में ग्लोबल टाइमिंग की वजह से एक दिन पहले ही मना लिया जाता है. यही वजह है कि अरब देशों में भारत से एक दिन पहले रमजान, ईद-उल-फितर और ईद-उल-जुहा मनाई जाती है.

कब मनाई जाएगी ईद?

इस साल 2024 में ईद-उल-फितर की तारीख चांद के दिखने के बाद ही तय होगी, इसलिए इसकी सही तारीख अभी तय नहीं की गई है. ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि अगर मुस्लिम समाज के लोगों का 29वां रोजा पूरा होने पर चांद निकल आता है तो ईद 10 अप्रैल 2024 को मनाई जाएगी. वहीं अगर 30वां रोजा पूरा होने पर चांद दिखता है, तो ईद 11 अप्रैल मनाई जाएगी. ईद की तारीख एक दिन पहले चांद के दिखने के बाद ही तय की जाती है.



RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular