fbpx
Thursday, July 18, 2024
spot_img

दारोगा पर छेड़छाड़ का आरोप, रातभर धरने पर बैठे रहे विधायक; अब दर्ज हुई FIR | Lakhimpur kheri Inspector accused of molestation MLAs sat on strike throughout the night Now FIR registered stwtg


दारोगा पर छेड़छाड़ का आरोप, रातभर धरने पर बैठे रहे विधायक; अब दर्ज हुई FIR

प्रतीकात्मक तस्वीर.

यूपी के लखीमपुर खीरी में दारोगा पर अपनी ही मकान मालकिन से छेड़छाड़ और मारपीट करने का आरोप लगा है. पुलिस ने मामला दर्ज नहीं किया तो विधायक योगेश वर्मा सदर कोतवाली के बाहर धरने पर बैठ गए. जिसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज किया. जानकारी के मुताबिक, सब इंस्पेक्टर का नाम अभय मिश्रा है. वह पिछले कुछ समय से यहां अपनी पत्नी के साथ किराए के मकान में रह रहा था.

दारोगा की पत्नी भी पुलिस में नौकरी करती है. आरोप है कि शनिवार को दारोगा अभय शराब पीकर घर आया. यहां उसने अपनी ही मकान मालकिन से छेड़छाड़ शुरू कर दी. जिस पर मकान मालकिन से उसकी बहस हो गई. बात बढ़ी को दारोगा की पत्नी भी वहां आ गई. दोनों पक्षों में विवाद चल ही रहा था कि दारोगा और उसकी पत्नी ने मकान मालकिन और उसके परिवार के साथ मारपीट शुरू कर दी.

पीड़िता ने इसकी शिकायत लेकर थाने पहुंची. बताया जा रहा है कि पीड़िता की शिकायत के बावजूद पुलिस ने दारोगा के खिलाफ मामला दर्ज नहीं किया. जैसे ही मामले की भनक लखीमपुर सदर के विधायक योगेश वर्मा को लगी तो वह अपने कुछ समर्थकों के साथ थाने पहुंच गए. उन्होंने पुलिसकर्मियों से मामला दर्ज करने को कहा. लेकिन फिर भी पुलिस ने मामला दर्ज नहीं किया. जिसके बाद विधायक थाने के बाहर ही धरने पर बैठ गए. वह देर रात 11:30 बजे धरने पर बैठे. इस दौरान खूब हंगामा भी हुआ. तब जाकर पुलिस ने दारोगा के खिलाफ मामला दर्ज किया. वो भी अगले दिन के सुबह चार बजे.

ये भी पढ़ें

मामले में आगामी कार्रवाई जारी

पुलिस ने आरोपी दारोगा के खिलाफ छेड़खानी और मारपीट का मामला दर्ज किया है. तो वहीं, आरोपी की पत्नी के खिलाफ मारपीट का मामला दर्ज किया गया है. बता दें, पीड़ित महिला सीतापुर से सांसद राजेश वर्मा की भतीजी है. पीड़िता की मानें तो दारोगा उनके घर परिवार सहित किराए पर रहता है. शनिवार को दारोगा शराब पीकर आया तो नशे में उनके साथ छेड़छाड़ करने लगा. पीड़िता ने कहा कि विरोध करने पर दारोगा और उसकी पत्नी ने हमारे परिवार के साथ मारपीट शुरू कर दी. पुलिस ने भी मामला दर्ज करने से इनकार कर दिया. बाद में विधायक के धरने के बाद मामला दर्ज किया गया. फिलहाल मामले में कार्रवाई की जा रही है.



RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular