fbpx
Sunday, July 14, 2024
spot_img

युवाओं में क्यों बढ़ रहा है कोलेस्ट्रॉल, कैसे ये बन जाता है कई बीमारियों का कारण | cases of bad cholesterol are rising in young people, causes many illnesses including heart attack


युवाओं में क्यों बढ़ रहा है कोलेस्ट्रॉल, कैसे ये बन जाता है कई बीमारियों का कारण

युवाओं में क्यों बढ़ रहा है बैड कोलेस्ट्रॉल, अनहेल्दी लाइफस्टाइल है वजह

आज बदलता लाइफस्टाइल कई बड़ी बीमारियों की वजह बनता जा रहा है और कम उम्र में ही लोग बीमारियों का शिकार हो रहे हैं. ऐसी ही एक समस्या है कोलेस्ट्रॉल जो बेहद आम है. जो गलत खानपान की आदत की वजह से होती है और फैटी लिवर और हार्ट अटैक की वजह बनती है. कोलेस्ट्रॉल जहां पहले बढ़ती उम्र के साथ बढ़ता था वही अब बाहर का ज्यादा खाना और फिजिकल एक्टिविटी की कमी कम उम्र में लोगों को बैड कोलेस्ट्रॉल का शिकार बना रही हैं.

क्यों बढ़ रहा है कोलेस्ट्रॉल

सीनियर कार्डियोलॉजिस्ट डॉक्टर वरूण बंसल कहते हैं कि जहां पहले मेरे पास ज्यादा उम्र के लोग बढ़े कोलेस्ट्रॉल की समस्या के साथ आते थे वही अब ये समस्या 20 वर्ष की आयु के लोगों में भी दिखाई दे रही है. कम उम्र में इसके बढ़ने की वजह उनका अनहेल्दी लाइफस्टाइल और कम फिजिकल एक्टिव रहना है. जिससे आगे चलकर उन्हें फैटी लिवर की समस्या हो रही है. बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल के लक्षण काफी लेट पता चलते हैं इसलिए ज्यादातर लोग इस समस्या पर ध्यान नहीं देते. यही वजह है कि आज कम उम्र के लोगों में भी हार्ट अटैक के मामले देखने को मिल रहे हैं.

कितना होना चाहिए कोलेस्ट्रॉल

कोलेस्ट्रॉल लिवर द्वारा निर्मित एक मोमी पदार्थ होता है जो हार्मोन, विटामिन डी और बाइल के निर्माण में आवश्यक होता है जिससे हमारा खाना आसानी से पचता है. कोलेस्ट्रॉल को कई प्रकारों में बांटा गया है जैसे हाई डेंसिटी लिपोप्रोटीन और लो डेंसिटी लिपोप्रोटीन. हाई डेंसिटी लिपोप्रोटीन
को गुड कोलेस्ट्रॉल के नाम से भी जाना जाता है जिसकी सामान्य रेंज 50mg/dL या इससे अधिक होना चाहिए. वही एलडीएल को बैड कोलेस्ट्रॉल के नाम से जाना जाता है जिसकी सामान्य रेंज 100 mg/dLसे कम होनी चाहिए. सामान्य रेंज से ज्यादा रेंज को खतरनाक माना जाता है जिससे हार्ट की समस्याएं होने का खतरा बढ़ जाता है.

युवाओं में क्यों बढ़ रहा है बैड कोलेस्ट्रॉल

– युवाओं में बढ़ते कोलेस्ट्रॉल की बड़ी वजह गलत खानेपीने की आदत है. फास्ट फूड का चलन और बाहर का जंक फूड शरीर में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाता है.

– कम फिजिकल एक्टिविटी भी इसके बढ़ने में योगदान देती है.

– मोटापा भी बैड कोलेस्ट्रॉल बढ़ने की एक बड़ी वजह है.

कोलेस्ट्रॉल बढ़ने से होने वाली समस्याएं

बैड कोलेस्ट्रॉल बढ़ने से फैटी लिवर, डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर, हार्ट अटैक और ब्रेन स्ट्रोक का खतरा बढ़ता है. लेकिन बड़े कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए दवाईयों से बेहतर अपनी जीवनशैली में बदलाव करें.

कैसे कम करें बैड कोलेस्ट्रॉल

– पर्याप्त मात्रा में पानी का सेवन करें.

– बाहर का जंक फूड, खाने में मीठा और वसायुक्त खाना कम खाएं.

– डाइट में हरी सब्जियां, मौसमी फलों को ज्यादा खाएं.

– फिजिकली एक्टिव रहें.

– रोजाना एक्सरसाइज करें वर्ना आधे घंटे की वॉक जरूर करें.

– पर्याप्त नींद लें.

– धूम्रपान और शराब का सेवन कम करें.



RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular