fbpx
Wednesday, July 17, 2024
spot_img

महाराष्ट्र में ननद बनाम भौजाई, बारामती सीट पर सुप्रिया सुले के खिलाफ चुनाव में उतरीं सुनेत्रा पवार | Sunetra Pawar versus Supriya Sule battle for Baramati Lok Sabha seat


महाराष्ट्र में ननद बनाम भौजाई, बारामती सीट पर सुप्रिया सुले के खिलाफ चुनाव में उतरीं सुनेत्रा पवार

बारामती सीट पर अब ननद और भौजाई के बीच सियासी मुकाबला देखने को मिलेगा

महाराष्ट्र में लोकसभा चुनाव की सियासी लड़ाई अब मजेदार हो गई है. राज्य की बारामती सीट पर अब ननद और भौजाई के बीच मुकाबला देखने को मिलेगा. शनिवार को एनसीपी शरद पवार गुट और अजित पवार गुट ने बारामती सीट पर अपने-अपने उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया है. शरद पवार गुट ने सीट पर सुप्रिया सुले को टिकट दिया है. वहीं, अजित पवार गुट ने सुनेत्रा पवार को मैदान में उतारने का ऐलान कर दिया. सुप्रिया सुले शरद पवार की बेटी हैं जबकि सुनेत्रा पवार डिप्टी सीएम अजित पवार की पत्नी हैं.

शरद पवार गुट ने आज अपने लोकसभा उम्मीदवारों की पहली सूची की घोषणा की. इस सूची में शरद पवार ने पांच सीटों पर अपने उम्मीदवारों के नाम का ऐलान किया है. बारामती से सुप्रिया सुले और शिरूर से अमोल कोल्हे का नाम घोषित किया है. वर्धा से अमर काले और डिंडोरी से भास्कर भागरे तथा अहमदनगर से नीलेश लंका को लोकसभा उम्मीदवार घोषित किया है. कहा जा रहा था कि नितेश कराले गुरुजी को वर्धा लोकसभा क्षेत्र से टिकट मिलेगा, लेकिन उन्हें टिकट नहीं दिया गया.

हॉट सीट बनी बारामती

महाराष्ट्र में शरद पवार की अगुवाई वाली एनसीपी में जब से दो फाड़ हुए हैं तब से ही बारामती की सीट को लेकर बयानबाजी सामने आती रही है. अब वो सियासी लड़ाई ननद-भाभी के आमने-सामने आने तक पहुंच गई है. इसी के साथ बारामती सीट राज्य की सबसे वीआईपी और दिलचस्प मुकाबला वाली सीट बन गई है. इस सीट पर शरद पवार का सिक्का चलता रहा है. उनके बाद उनकी विरासत को सुप्रिया संभाल रहीं हैं, लेकिन अब बदले राजनीतिक हालात में पिता की विरासत को बचाना आसान नहीं माना जा रहा है.

एक तरफ शरद पवार की इमोशनल अपील, दूसरी ओर मोदी की गारंटी

एक तरफ शरद पवार इस सीट पर लगातार लोगों से इमोशनल अपील करते हुए नजर आए है. इसके पीछे उन्होंने कई सालों के रिश्ते-नाते की बाट कहकर लोगों से फिर से जिताने की अपील कर रहे हैं तो दूसरी अजित गुट है जो कि विकास और मोदी की गारंटी पर यकीन दिला रहा है. कहा ये भी जा रहा है कि बारामती सीट पर लड़ाई ननद-भाभी के बीच में भले हैं, लेकिन साख तो चाचा और भतीजे की दांव पर लगी है.



RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular