fbpx
Wednesday, July 17, 2024
spot_img

दिल्ली के रामलीला मैदान में कल होगी ‘लोकतंत्र बचाओ रैली’, पूरा विपक्ष एक मंच से भरेगा हुंकार | India alliance hold mega rally on 31 march in delhi ramlila maidan named loktantra bachao rally 28 opposition parties participate


दिल्ली के रामलीला मैदान में कल होगी 'लोकतंत्र बचाओ रैली', पूरा विपक्ष एक मंच से भरेगा हुंकार

इंडिया गठबंधन की रैली.Image Credit source: PTI

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 31 मार्च को लोकसभा चुनाव 2024 के लिए मेरठ में रैली करने वाले हैं. वहीं विपक्षी गठबंधन इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस (इंडिया) गठबंधन भी इस दिन एक महारैली करने वाला है, जिसमें सभी बड़े नेता शामिल होगें. इसका नाम ‘लोकतंत्र बचाओ रैली’ रखा गया है, जो दिल्ली के ऐतिहासिक रामलीला मैदान में होगी. रैली में कांग्रेस नेता राहुल गांधी, ममता बनर्जी, भगवंत मान, मल्लिकार्जुन खड़गे समेत 28 विपक्षी दलों के कई नेता शामिल होने वाले हैं. इंडिया गठबंधन कि इस महारैली को लेकर लगभग तैयारी पूरी कर ली गई है.

इस रैली को आम आदमी पार्टी मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के जेल से बाहर लाने के समर्थन का नाम दे रही है. हालांकि कांग्रेस पार्टी का कहना है कि रैली किसी एक लिए नहीं है बल्कि संविधान को बचाने के लिए यह रैली है. जानकारी के मुताबिक यह रैली साढ़े 9 बजे से लेकर 2 बजे तक चलेगी. इसे लोकतंत्र बचाओ रैली नाम दिया गया है. इस महारैली का नारा तानाशाही हटाओ, लोकतंत्र बचाओ है.

ये बड़े नेता होंगे शामिल

मिली जानकारी के मुताबिक लोकतंत्र बचाओ रैली सीता राम येचुरी, डी राजा, भगवंत मान, महबूबा मुफ्ती, डेरेक ओब्रॉय, डीएमके, चंपई सोरेन, शरद पवार, उद्धव ठाकरे, अखिलेश यादव, तेजस्वी यादव, हेमंत सोरेन की पत्नी कल्पना सोरेन शामिल होने वाले हैं. इसके अलावा नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला भी ‘लोकतंत्र बचाओ रैली’ में भाग लेंगे. इस बात की जानकारी उनके बेटे और पार्टी उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने दी. उमर अब्दुल्ला ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘दिल्ली के रामलीला मैदान में इंडिया गठबंधन का एक कार्यक्रम है.

उठाए जाएंगे ये मुद्दे

रैली में इंडिया गठबंधन विपक्षी नेताओं को जेल भेजने का मुद्दा उठा सकती है. हाल ही में केजरीवाल, उससे पहले हेमंत सोरेन, संजय सिंह, सत्येंद्र जैन को जेल भेजा गया, जिसे लेकर विपक्ष लगातार आरोप लगा रहा है कि बीजेपी उन्हें खत्म करने की कोशिश कर रही है. इसके अलावा चुनाव से पहले विपक्षी दलों के अकाउंट सीज किए जाने को लेकर रैली में उठाया जाएगा.



RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular