fbpx
Wednesday, July 17, 2024
spot_img

अच्छा तो…इसलिए महंगे हो रहे हैं मकान, टॉप 9 शहरों में ये है प्रॉपर्टी का हाल | Why Property Price Are Rising In Top 9 Cities Unsold Home Inventory Decline


अच्छा तो...इसलिए महंगे हो रहे हैं मकान, टॉप-9 शहरों में ये है प्रॉपर्टी का हाल

मकानों के महंगे होने की ये है वजह

अपना घर खरीदना हर इंसान का सपना होता है. इसके लिए हर कोई प्लानिंग भी करता है. वह अपने बजट के हिसाब से प्रॉपर्टी की खोज में रहता है. लेकिन बीते कुछ समय से प्रॉपर्टी की कीमतों में तेजी का ट्रेंड देखने को मिल रहा है. अगर अक्टूबर-दिसंबर तिमाही के आंकड़ों को ही देखें तो प्रॉपर्टी की कीमतों में सालाना आधार पर 5.9 प्रतिशत तक का उछाल देखा गया है. आखिर प्रॉपर्टी की कीमतों में ये तेजी क्यों देखी जा रही है? देश के टॉप-9 शहरों के आंकड़ों से इसे समझते हैं.

देश के टॉप-9 शहरों में प्रॉपर्टी के हालात की समीक्षा करने का काम रियल एस्टेट एनालिसिस फर्म प्रॉप-इक्विटी ने किया है. फर्म की रिपोर्ट में बताया गया है कि इन 9 शहरों में अब खाली पड़े बिना बिके मकानों की संख्या लगातार घट रही है. इसके अलावा भी कई और बातें सामने आई हैं.

3 महीनों 7 प्रतिशत घट गई इन्वेंटरी

रिपोर्ट में कहा गया है क प्रॉपर्टी की मांग लगातार बढ़ रही है, उसके मुताबिक नई प्रॉपर्टी की डिलीवरी नहीं हो रही है. इसकी वजह से देश के टॉप-9 प्रॉपर्टी मार्केट में इन्वेंटरी घट रही है. यहां इन्वेंटरी से मतलब ऐसे मकानों से हैं, जो खाली पड़े हैं और अब तक बिके नहीं हैं. रिपोर्ट के मुताबिक ऐसे मकानों की इन्वेंटरी बीते 3 महीनों में 7 प्रतिशत घटकर 4.81 लाख रह गई है. संभवतया इसी डिमांड-सप्लाई के इसी अंतर की वजह से प्रॉपर्टी की कीमतें काफी बढ़ रही हैं.

ये भी पढ़ें

किस शहर में कितने मकान पड़े हैं खाली?

प्रॉपइक्विटी के मुताबिक इस साल मार्च के अंत में टॉप-9 शहरों में बिना बिके मकानों की संख्या 4,81,566 थी. यही संख्या दिसंबर 2023 के अंत में 5,18,868 यूनिट थी. ये टॉप-9 शहर मुंबई, नवी मुंबई, ठाणे, दिल्ली-एनसीआर (दिल्ली, गुरुग्राम, नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद और फरीदाबाद), बेंगलुरु, हैदराबाद, पुणे, चेन्नई और कोलकाता हैं.

जनवरी-मार्च 2024 के टाइम फ्रेम को देखें इन 9 शहरों में कुल 1,44,656 मकान बिके हैं, जबकि नई यूनिट 1,05,134 ही लॉन्च हुई हैं. इस अंतर को पाटने का काम पुराने बिना बिके मकानों ने किया. आंकड़ों के हिसाब से बिना बिके खाली मकानों की संख्या में सबसे ज्यादा कमी पुणे शहर में आई है. ये 13 प्रतिशत घटकर 65,788 यूनिट रह गई है. बाकी शहरों का हाल ये है.

  1. दिल्ली-एनसीआर में दिसंबर तिमाही के मुकाबले अब 12 प्रतिशत कम बिना बिके मकान हैं. ये संख्या 27,959 यूनिट है.
  2. इसी तरह मुंबई में इनकी संख्या 11 प्रतिशत घटकर 48,399 यूनिट रह गई है.
  3. नवी मुंबई में ये संख्या 11 प्रतिशत नीचे आई है और अब 33,385 है.
  4. ठाणे में बिना बिके मकान 5 प्रतिशत कम हुए हैं. इनकी संख्या 1,06,565 यूनिट है, जो दिसंबर तिमाही में 1,12,397 यूनिट थी.
  5. बेंगलुरू में ये संख्या अब 44,837 यूनिट रह गई है.
  6. हैदराबाद में बिना बिके मकान 1,10,425 रह गए हैं.
  7. कोलकाता में बिना बिके मकानों की संख्या 23,249 यूनिट थी.
  8. चेन्नई में भी बिना बिके मकानों की संख्या 1 प्रतिशत कम हुई है. ये अब 20,959 यूनिट रह गई है.



RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular