fbpx
Sunday, July 14, 2024
spot_img

Mafia don mukhtar ansari will be buried in mohammadabad cemetery of ghazipur tight security | कालीबाग कब्रिस्तान में कल सुबह सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा मुख्तार अंसारी, गाजीपुर में बढ़ाई गई सुरक्षा


कालीबाग कब्रिस्तान में कल सुबह सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा मुख्तार अंसारी, गाजीपुर में बढ़ाई गई सुरक्षा

कालीबाग कब्रिस्तान में दफनाया जाएगा मुख्तार का शव.

मुख्तार अंसारी का शुक्रवार दोपहर बांदा मेडिकल कॉलेज में पोस्टमार्टम किए जाने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया. मुख्तार अंसारी के शव को गाजीपुर जिले के मोहम्दाबाद यूसुफपुर स्थित उनके पैतृक गांव लाया जा रहा है. मुख्तार के शव के साथ 26 गाड़ियों का काफिला गाजीपुर के लिए निकल चुका है. बताया जा रहा है कि देर रात मुख्तार का शव गाजीपुर पहुंच जाएगा और अगले दिन (30 मार्च) को कालीबाग कब्रिस्तान में सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा. ये कब्रिस्तान मुख्तार अंसारी के आवास से करीब आधा किलोमीटर दूर स्थित है. बताया जा रहा है कि इसी कब्रिस्तान में मुख्तार की मां और पिता की भी कब्र है.

मोहम्मदाबाद यूसुफपुर में मुख्तार अंसारी के घर के बाहर सुरक्षा बढ़ा दी गई है और पूरे घर को बैरेकेडिंग कर घेर दिया गया है. मीडियाकर्मियों को भी घर के अंदर जाने की इजाजत नहीं दी जा रही है. मुख्तार के घर के बाहर उनके समर्थकों की भीड़ लगी है और हर कोई उनके शव का इंतजार कर रहा है. पूरे मोहम्मदाबाद यूसुफपुर की दुकानें और बाजार बंद हैं. गाजीपुर के एसपी ओमवीर सिंह ने बताया कि मुख्तार के जनाजे में उनके परिवार और रिश्तेदार सहित करीब 100 लोग शामिल होंगे. कालीबाग कब्रिस्तान में मुख्तार अंसारी को सुपुर्द-ए-खाक करने की तैयारी पूरी कर ली गई. ऐसी जानकारी है कि सुबह की नमाज के बाद मुख्तार को सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा.

बांदा जेल में बिगड़ गई थी तबीयत

मुख्तार अंसारी की कल शाम करीब साढ़े आठ बजे बांदा जेल में तबीयत बिगड़ कई थी. उन्हें आनन-फानन में तुरंत रानी दुर्गावती मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया. डॉक्टरों ने बताया कि मुख्तार को उल्टी की शिकायत और बेहोशी की हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया था. मुख्तार की हालत को देखते हुए तुरंत 9 डॉक्टरों की टीम को लगाया गया. इलाज के दौरान मुख्तार को दिल का दौरा पड़ा और उसकी मौत हो गई.

बांदा सहित पूरे प्रदेश में धारा 144 लगाई गई

बांदा के रानी दुर्गावती मेडिकल कॉलेज में मुख्तार की मौत की खबर आग की तहर फैली और मामले की गंभीरता को देखते हुए पूरे इलाके को छावनी में तब्दील कर दिया गया. यही नहीं उत्तर प्रदेश के सभी जिलों में धारा 144 लगा दी गई. पूर्वांचल के गाजीपुर, मऊ, प्रयागराज, जौनपुर, बलिया, चंदौली और वाराणसी में सुरखा बढ़ा दी गई है.

बेटे अब्बास अंसारी को नहीं मिली इजाजत

मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी को इलाहाबाद हाईकोर्ट से उस वक्त झटका लगा जब उसे पिता के जनाजे में शामिल होने की इजाजत नहीं दी गई है. इसे लेकर अब मुख्तार के परिवार के सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. कासगंज जेल में बंद विधायक बेटा अब्बास अंसारी पिता मुख्तार अंसारी के जनाजे में शामिल होना चाहता था.

सुप्रीम कोर्ट में जल्द सुनवाई की मांग

माफिया मुख्तार अंसारी को दफन करने से पहले उनका विधायक बेटा अब्बास अंसारी उनको अंतिम बार देखना चाहता है. इसके लिए अब अब्बास अंसारी ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. अब्बास अंसारी के वकील ने SC के वेकेशन ऑफिसर से संपर्क किया है और कोर्ट से जल्द से जल्द सुनवाई की मांग की है.



RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular