fbpx
Wednesday, July 17, 2024
spot_img

5 अप्रैल को कांग्रेस का घोषणा पत्र और 6 को उत्तर से दक्षिण तक जनता को साधने का प्लान | congress-manifesto-lok-sabha-election-2024-sonia-gandhi-rahul-gandhi-priyanka-gandhi-mallikarjun-kharge


5 अप्रैल को कांग्रेस का घोषणा पत्र और 6 को उत्तर से दक्षिण तक जनता को साधने का प्लान

राहुल गांधी और कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे (फाइल फोटो)

लोकसभा चुनाव 2024 के लिए कांग्रेस पार्टी ने कमर कस ली है. कांग्रेस जल्द ही अपना चुनावी घोषणा पत्र जारी करने वाली है. घोषणा पत्र के साथ ही कांग्रेस ने आगामी चुनावी गतिविधियों के लिए देशव्यापी रणनीति तैयार की है. पार्टी सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस मुख्यालय में 5 अप्रैल को घोषणापत्र जारी करने की तारीख तय की गई है. उसके बाद 6 अप्रैल को उत्तर और दक्षिण भारत में दो बड़ी रैलियों के जरिए घोषणापत्र की प्रमुख बिंदुओं को जनता तक पहुंचाएगी.

घोषणा पत्र जारी करने के साथ ही कांग्रेस उत्तरी राज्यों से लेकर दक्षिणी राज्यों तक अपने अभियान चलाने की रणनीति पर काम कर रही है. इस प्रकार देश के हर भाग में कांग्रेस अपने घोषणा पत्र की अहम बातों को पहुंचाना चाहती है. इस अभियान में कांग्रेस पार्टी के सभी बड़े नेता शामिल रहेंगे. इन दोनों रैलियों के जरिए एक ही साथ उत्तर से लेकर दक्षिण तक के मतददाताओं को साधने की कोशिश की जाएगी.

जयपुर से हैदराबाद तक कांग्रेस की रैली

जानकारी के मुताबिक घोषणा पत्र जारी करने के बाद कांग्रेस जयपुर से लेकर हैदराबाद तक रैली करेगी. उत्तर भारत की जनता को साधने के लिए कांग्रेस ने राजस्थान की राजधानी जयपुर को चुना है. इस रैली में राज्यसभा सांसद सोनिया गांधी रहेंगी.

ये भी पढ़ें

वहीं दक्षिण भारत की जनता तक अपनी पैठ मजबूत बनाने के लिए कांग्रेस पार्टी ने हैदराबाद में रैली करने की योजना तैयार की है. दोनों ही जगहों पर रैली घोषणा पत्र को जारी करने के तुरंत बाद होगी. पार्टी सूत्रों के मुताबिक हैदराबाद की रैली में राहुल, प्रियंका और मल्लिकार्जुन खरगे में से कोई दो नेता मौजूद रहेंगे. जबकि एक नेता सोनिया गांधी के साथ जयपुर की रैली में रहेंगे. इनके अलावा भी दोनों जगहों पर पार्टी के और भी कई बड़े नेता रहेंगे.

कांग्रेस के घोषणा पत्र की बड़ी बातें

इससे पहले पार्टी नेता राहुल गांधी ने कहा था कांग्रेस का घोषणा पत्र महज वादों का दस्तावेज नहीं होगा बल्कि ये न्याय पत्र होगा. इसमें 5 प्रकार के न्याय और जनता के हित में 25 तरह की गारंटी दी जाएगी. राहुल गांधी ने कहा कि पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के बीच इस बाबत गंभीरता से चर्चा हो चुकी है. उन्होंने कहा कि भारत जोड़ो यात्रा और भारत जोड़ो न्याय यात्रा के दौरान उन्हें जनता के बीच जाकर जो फीड बैक मिला, उसके आधार पर ही कांग्रेस पार्टी का घोषणा पत्र जारी किया जाएगा.

राहुल गांधी ने कहा था कि हमने यात्रा के दौरान गली गली में घूमकर देश की आवाज सुनी, जन जन का दर्द जाना है. उन्होंने कहा कि हम पांच प्रकार के न्याय की मांग को लेकर जनता के बीच जाएंगे. इनमें हिस्सेदारी न्याय, किसान न्याय, श्रमिक न्याय, नारी न्याय शामिल हैं.



RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular