fbpx
Thursday, July 18, 2024
spot_img

ये मुस्लिम देश बेच रहा था इजराइल को हथियार, जनता को पता लगा तो हो गया बवाल | turkey arms exports to israel amid war on gaza


ये मुस्लिम देश बेच रहा था इजराइल को हथियार, जनता को पता लगा तो हो गया बवाल

तुर्की पर लगे गंभीर आरोप

सोशल मीडिया साइट एक्स पर पिछले दो दिनों से #ErdoganArmsIsrael ट्रेंड कर रहा है. फिलिस्तीन और मुस्लिम दुनिया के मसीहा समझे जाने वाले तुर्की राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोआन पर गंभीर आरोप लगे हैं. तुर्की की एक ट्रेड रिपोर्ट में खुलासा हुआ कि तुर्की ने युद्ध के दौरान इजराइल को हथियार बेचे हैं. मीडिया आउटलेट ‘द क्रैडल’ ने ‘ट्रेंडिंग इकोनॉमिक्स’ की एक रिपोर्ट का उल्लेख करते हुए लिखा कि जनवरी में देश ने इजराइल को कीमती मेटल, केमिकल, कीटनाशकों, परमाणु रिएक्टर पार्ट्स, बारूद, विस्फोटक, विमान के हिस्सों, हथियारों और गोला-बारूद सहित करीब 319 मिलियन डॉलर का सामान निर्यात किया.

‘करार डेली’ के मुताबिक ये ट्रेड तुर्की की इंडिपेंडेंट इंडस्ट्रियलिस्ट्स एंड बिजनेसमैन एसोसिएशन (MUSIAD) से जुड़ी कंपनियों ने किया है, जिनको देश में राष्ट्रपति एर्दोआन का समर्थन करने के लिए जाना जाता है. इस रिपोर्ट के बाहर आने के बाद सोशल मीडिया पर तुर्की राष्ट्रपति के खिलाफ भूचाल आ गया है. फिलिस्तीन समर्थकों ने इजराइल के साथ हथियारों के व्यापार को फिलिस्तीनियों के ‘पीठ में छुरा घोंपने’ जैसा करार दिया है. सोशल मीडिया पर लोगों ने तुर्की और एर्दोआन के खिलाफ गुस्सा जाहिर किया है.

ये भी पढ़ें

तुर्की ने दी सफाई

मामले के तूल पकड़ने के बाद तुर्की को सफाई देनी पड़ी है. तुर्की की डिफेंस मिनिस्ट्री ने बयान में कहा, “तुर्की हमेशा से फिलिस्तीन का समर्थक रहा है. ऐसा कभी नहीं हो सकता कि तुर्की किसी भी ऐसी गतिविधि में शामिल हो जो फिलिस्तीन के खिलाफ इस्तेमाल हो.” बयान में आगे कहा कि डिफेंस मंत्रालय की इजराइल के साथ सैन्य प्रशिक्षण और डिफेंस इंडस्ट्री से जुड़ी कोई भी डील नहीं हुई है.

“हथियार के नाम पर कुछ और हुआ एक्सपोर्ट”

TCDCCD ने एक्स पर लिखा, “कथित एक्सपोर्ट रिपोर्ट के 93वें चैपटर में प्रोडक्ट जंग के हथियार और गोला-बारूद नहीं हैं, बल्कि खेल और शिकार जैसे निजि कामों के लिए इस्तेमाल होने वाले अनग्रूव्ड राइफल स्पेयर पार्ट्स, सहायक उपकरण और मछली पकड़ने के प्रोडक्ट्स हैं.”

तुर्की की सफाई झूठी!

तुर्की के मुख्य स्वतंत्र फैक्ट चेक आउटलेटों में से एक टेयिट हक्किंडा के फैक्ट चेकर ओयकुम हुमा केस्किन ने कहा कि एक्सपोर्ट डेटा रिपोर्ट के झूठे होने का दावा गलत है. उन्होंने कहा “जब हमने इस रिपोर्ट की जांच की तो पता चला है कि 2024 के पहले तीन महीनों में इजराइल को ‘बारूद और विस्फोटक’ निर्यात किए गए हैं.





RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular